बीजेपी के पतन का समय आ गया है

कर्नाटक का नाटक तो लगभग समापत हो चूका है लेकिन आरोप प्रत्यारोप का शिलशिला जारी है। सबसे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने पीएम मोदी को भ्रष्ट कहा, फिर कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने कर्नाटक के राज्य पाल वाजूभाई की तुलना कुत्ते से कर दी। फिर पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने पीएम मोदी को गीदड़ कहकर पुकारा। अब गुजरात के वडगाम विधायक जिग्नेश मेवानी ने पीएम मोदी की तुलना दुर्योधन और अमित शाह की तुलना दुशासन से की है।

इससे पहले भी कई मौके पर मेवानी ने पीएम मोदी पर हमला किया है। जिसमें मेवानी ने पीएम मोदी को महामूर्ख तक कह दिया था। एक फोटोशॉप की तस्वीर को साझा कर मेवानी ने लिखा था कि फेकू फेंकने में माहिर है और इसी वजह से भगत सिंह के साथ जेल में बैठे है वहां पर भी फेक रहा होगा। यदि मूर्खता दिवस मनाने की बात हो तो पीएम मोदी के जन्मदिन पर मुर्ख दिवस मनाऊंगा।

वही अब जेनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने कर्नाटक के नाटक को लेकर बीजेपी पर कविता पेश कर तंज़ कसा है जिसमें कन्हैया ने इस बात की आशंका जाहिर की है कि आने वाले दिनों में हो सकता है कि बीजेपी विधायकों को खरीद कर कर्नाटक की राजनीति को तबाह करने की कोशिश करेगी। कुमार ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर लिखा है

र्नाटक में सत्ता के नाटक के भावी चरण-

राज्यपाल का तीर नहीं चला तो
राष्ट्रपति का तीर चलाएँगे।
विधायक ख़रीदकर नई सरकार गिराएँगे।
सरकार गिराकर राष्ट्रपति शासन लगाएँगे।
और कर्नाटक पर अपना राज जमाएँगे। 
भाजपा वाले हैं- आदत से बाज़ नहीं आएँगे।

बहरहाल जेडीएस के कुमारस्वामी बुधवार को सीएम पद का शपथ लेंगे लेकिन डिप्टी सीएम को लेकर कांग्रेस और जेडीएस में तकरार जारी है। कांग्रेस दो डिप्टी सीएम चाहती है जबकि जेडीएस एक डिप्टी सीएम के पक्षधर है। ऐसे में अब देखना यह है कि यदि सरकार बन भी जाती है तो कांग्रेस अथवा जेडीएस कब तक अपने असंतुष्ट विधायकों का मुंह बंद करके रखेगी ?

Post Author: NEWS NATIONAL

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *